एकजुट हो राष्ट्र को ले जाएं बुलंदियों पर: बालको सीईओ विकास शर्मा

बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं निदेशक विकास शर्मा ने किया ध्वजारोहण।

0
497

बालकोनगर (कोरबा) छत्तीसगढ़। ‘‘देश के स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने बलिदान से हमें स्वाधीन एवं संप्रभु महान राष्ट्र की सौगात दी है। हम कंधे से कंधा मिलाकर काम करते हुए देश को आगे ले जाएं।’’

ये उद्गार बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं निदेशक विकास शर्मा ने 69वें गणतंत्र दिवस पर डॉ. अंबेडकर स्टेडियम में आयोजित समारोह में व्यक्त किए।

श्री शर्मा ने प्रसिद्ध काव्य पंक्तियों ‘तू गांधी की अमर साधना’ का पाठ करते हुए बालको परिवार को एकजुटता का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि हम समानता, सांप्रदायिक सौहार्द्र, समन्वय, भाईचारा, कर्मठता, शांतिपूर्ण सहअस्तित्व की भावना से देश को प्रगति के शिखर पर ले जाएं।

उन्होंने कहा कि बालको परिवार ने एकजुटता का परिचय देते हुए आज 5 लाख 70 हजार टन प्रति वर्ष एल्यूमिनियम उत्पादन क्षमता को प्राप्त कर लिया है। विद्युत उत्पादन क्षमता 2010 मेगावॉट हो गई है।

उन्होंने कहा कि बालको को आबंटित चोटिया कोल ब्लॉक के प्रचालन में आने से शासन को राजस्व के रूप में लगभग 400 करोड़ रुपए प्राप्त होंगे। बालको देश का पहला ऐसा एल्यूमिनियम उद्योग है जिसके पास टीएस 16949 सर्टिफिकेट है। गुणवत्ता प्रबंधन के क्षेत्र में यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठित गुणवत्ता प्रबंधन मानक है। इस मानक से विश्वस्तरीय ऑटोमोटिव उद्योग में बालको की विशेष पहचान बनाने में मदद मिल रही है।

औद्योगिक स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं पर्यावरण प्रबंधन बालको की प्राथमिकता है। सुरक्षा के क्षेत्र में संयंत्र परिसर में अनेक अभियान संचालित किए गए हैं। पर्यावरण संरक्षण एवं संवर्धन की दिशा में प्रदेश का सबसे बड़ा सिक्योर्ड लैंड फिल संयंत्र परिसर में निर्मित किया गया है। कोरबा को धुंआमुक्त बनाने में बालको जिला प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रहा है।

वेदांत समूह के ‘व्ही-फिटनेस कार्यक्रम’ के अंतर्गत बालको परिवार को स्वास्थ्य के प्रति प्रोत्साहित किया जा रहा है। साइकिल रैली, रेस पैक ‘लूजर्स विन’, बालको प्रीमियर लीग आदि कार्यक्रम आयोजित किए गए जिनमें बड़ी संख्या में बालको परिवार के सदस्यों ने भागीदारी की। समय-समय पर बालकोनगर योग मित्र मंडल के सहयोग से योग शिविरों का आयोजन किया जाता है।

उत्पादन, उत्पादकता, गुणवत्ता, मानव संसाधन, औद्योगिक स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं पर्यावरण, अनुसंधान, साहित्य-संस्कृति प्रोत्साहन, सामुदायिक विकास आदि विभिन्न क्षेत्रों में बालको ने वर्ष 2017-18 में आई.एम.ई.ए.-प्लेटिनम अवार्ड, सस्टेनिबिलिटी लीडर्स अवार्ड, एशिया सस्टेनिबिलिटी एक्सीलेंस अवार्ड, क्वालिटी सर्कल एवं काइजेन के लिए अंतरराष्ट्रीय अवार्ड तथा पार एक्सीलेंस एवं एक्सीलेंट अवार्ड, खान सुरक्षा प्रबंधन के लिए ग्रीनटेक सेफ्टी गोल्ड अवार्ड, पर्यावरण उत्कृष्टता पुरस्कार, सी.आई.आई. एनर्जी समिट अवार्ड, टोटल एम्प्लॉई इन्वोल्वमेंट चैंपियनशिप अवार्ड, ईटी 2 गुड 4 गुड सर्टिफिकेट, ग्रो केयर इंडिया ई.एच.एस. अवार्ड, वाटर डायजेस्ट अवार्ड, गोल्डन पीकॉक अवार्ड, सृष्टि जी-क्यूब अवार्ड, डी.एल. शाह गोल्ड अवार्ड, अखिलेश जैन सम्मान आदि प्राप्त किए।

शर्मा ने बताया कि बालको ने अपने प्रचालन क्षेत्रों कोरबा, मैनपाट, बोदई-दलदली और चोटिया में जन कल्याण कार्यक्रमों के अंतर्गत बड़े पैमाने पर शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वावलंबन, आधारभूत संरचना विकास, महिला सशक्तिकरण के कार्य संचालित किए हैं जिनसे बड़ी संख्या में नागरिक लाभान्वित हो रहे हैं।

15 स्कूलों के बच्चों ने की सांस्कृतिक कार्यक्रम में भागीदारी – बालको के 15 स्कूलों के लगभग 1800 बच्चों ने पी.टी. ड्रिल, परेड और सांस्कृतिक कार्यक्रम में भागीदारी की।

इस मौके पर बालको के उन अधिकारियों-कर्मचारियों को सम्मानित किया गया जो स्वैच्छिक शिक्षक के रूप में बालको के ‘परियोजना कनेक्ट’ के अंतर्गत जरूरतमंद विद्यार्थियों को निःशुल्क कोचिंग दे रहे हैं।

Please follow and like us:

Comments

comments