छत्तीगसढ़ में सीएसआर को नया आयाम देगा सीएसआर लीडरशिप सम्मेलन, 24 अगस्त को रायपुर में जुटेंगे सीएसआर – एनजीओ लीडर्स

माननीय कृषिमंत्री बृजमोहन अग्रवाल सम्मेलन के मुख्य अतिथि होंगे

0
249

सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए शीघ्र ही अपने नाम का पंजीयन कराएं।

रायपुर। छत्तीसगढ़ के सामाजिक एवं आर्थिक विकास के विभिन्न आयामों पर चिंतन करने के लिए सीएसआर और एनजीओ लीडर एक मंच पर राजधानी रायपुर में पहली बार इकट्ठा हो रहे हैं। अवसर होगा छत्तीसगढ़ सीएसआर लीडरशिप सम्मेलन जो 24 अगस्त को होटल बेबीलान इंटरनेशनल में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक आयोजित होगा।

मुख्य अतिथिः माननीय कृषिमंत्री बृजमोहन अग्रवाल सम्मेलन के मुख्य अतिथि होंगे।

यहां पर यह चिंतन किया जाएगा कि छत्तीसगढ़ जैसे छोटे विकासशील राज्य बड़े कारपोरेट घरानों द्वारा खर्च किए जाने सीएसआर फंड को किस तर आकर्षित कर सकते हैं। यहां पर एनजीओ के क्षमता निर्माण की रणनीति पर भी विस्तार से चर्चा होगा। इंडिया सीएसआर नेटवर्क द्वारा सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है।

इंडिया सीएसआर नेटवर्क के फाउंडर और सम्मेलन के संयोजक रूसेन कुमार ने बताया कि सम्मेलन का उद्देश्य एक प्रभावी राज्य स्तरीय मंच तैयार करना है जहां पर सीएसआर और एनजीओ साथ-साथ हाथ मिलाकर सामाजिक विकास की गतिविधियों में तेजी लाकर उसे प्रभावी बना सकें। रूसेन कुमार ने कहा कि समावेशी विकास के लिए सिविल सोसाइटी, एनजीओ, सरकारी सिस्टम, नेतृतत्वकर्ताओं, राजनेताओं, नीति-निर्धारकों और कारपोरेट के मध्यम परस्पर साझेदारी सुनिश्चित करने होंगे।

हमें विश्वास है कि यह सम्मेलन कारपोरेट जगत और एनजीओ लीडर्स में उत्साह पैदा करेगा। आयोजकों ने छत्तीसगढ़ के सभी कारपोरेट घरानों और विकास कार्यों में संलग्न सभी संस्थाओं और एजेसिंयों, नेतृत्वकर्ताओं को अधिक संख्या में हिस्सा लेने आव्हान किया गया। सम्मेलन में प्रदर्शनी भी लगेगी। इस सभा में छत्तीसगढ़ सहित मध्यप्रदेश, ओडिशा, महाराष्ट्र, नई दिल्ली स्थित संस्थाओं के 200 प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं। विज्ञान शिक्षा के प्रचार-प्रसार के लिए करने के लिए वाली अग्रणी संस्था स्टेम लर्निंग सम्मेलन का मुख्य प्रायोजक संस्था है।

विद्वान वक्तागणः

  • रूसेन कुमार, फाउंडर एवं एडिटर, इंडिया सीएसआर नेटवर्क।
  • मयूरी मिश्रा, फाउंडर एवं सीईओ, शक्तिशी ।
  • कौशिक सिन्हा, सीएसआर हेड, मैग्माफिन कार्प ।
  • मेहर गाडेकर, डायरेक्टर, सोशल आडिट यूनिट ।
  • सर्वमित्र शर्मा, चेयरमैन जागरण पहल, दैनिक जागरण ग्रुप ।
  • प्रोफेसर वी. नागदास, हेड ग्राफिक्स विभाग, इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़।
  • डा. ऋषि तिवारी, सीईओ, बिमटेक फाउंडेशन ।
  • ऋषि पठानिया, ग्लोबल सीएसआर हेड, यूपीएल लिमिटेड ।
  • रूषीन पटेल, एवार्ड विनिंग डेव्लपमेंट सीएसआर प्रोफेशनल ।
  • अरुण नाथन, डायरेक्टर, आईडीएफसी फाउंडेशन ।
  • रोचक भारद्वाज, एरिया प्रोग्राम मैनेजर – इस्ट, अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन ।
  • नवदीप सिंह मेहरम, डियाजीओ इंडिया ।
  • चेत जैन, फाउंडर, क्राउडेरा, कैलिफोर्निया।
  • डा. राणा सिंह, वाइस चांसलर, संस्कृति यूनिवर्सिटी
  • प्रो. डा. संजय कुमार सिंह, ओपी जिंदल यूनिवर्सिटी।
  • शुभांकर विश्वास, स्टेट हेड, हेल्पेज इंडिया।

क्या है सीएसआर कानून

सीएसआर कानून 1 अप्रैल 2014, के अनुसार हर कंपनी, प्राइवेट लिमिटेड या पब्लिक लिमिटेड, जिन्होंने 500 करोड़ रुपये का शुद्ध मूल्य या 1,000 करोड़ रुपये या 5 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ का कारोबार किया है, उन्हें तीन वित्तीय वर्षों के लिए, तुरंत अपने औसत शुद्ध लाभ का कम से कम 2 प्रतिशत, नीति बनाकर कॉर्पोरेट सामाजिक गतिविधियों पर खर्च करना है।सीएसआर की राशि से पिछड़े इलाकों के विकास और कमजोर एवं पिछड़े वर्ग के कल्याण के लिए योजना बनाकर कार्य करना है।

नया कंपनी अधिनियम में सामाजिक मुद्दों का हल निकालने, गरीब और वंचित समूहों का समावेशी विकास करने सहित उनके जीवन पर सकारात्‍मक प्रभाव लाने और इन समूहों को उत्‍पादक एवं सम्‍मानजनक जीवनयापन में मदद करने हेतु कॉरपोरेट की सामाजिक जिम्‍मेदारी के मद से योगदान करने का अनिवार्य प्रावधान है।

प्रतिभागी संस्थाएं

सम्मेलन में छत्तीसगढ़ शासन, नाबार्ड, बालको वेदान्ता, एसईसीएल, आईआईएम रायपुर, आदित्य बिड़ला समूह, जिंदल समूह, जिंदल पावर लिमिटेड, अडानी, अंबुजा सीमेंट, एसीसी सीमेंट, यूपीएल, जीएमआर, हेल्पेज इंडिया, बीमटेक फाउंडेशन, समग्र इंटरप्राइस, जेके लक्ष्मी सीमेंट, सीएमआर यूनिवर्सिटी, खबरची वेब मीडिया, शान्वी साल्युशंस, वर्कमेन, कतर्व्य, रामदास द्रौपदी फाउंडेशन, आरोह फाउंडेशन, पीएम शाह फाउंडेशन, रंगनाथन शोसायटी, गेल्वे फाउंडेशन, शिखर युवामंच, शिखर युवा मंच, वर्ल्ड विजन इंडिया, आक्सफैम, मितान सेवा समिति, सुरक्षित भव फाउंडेशन सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों से 100 से अधिक संस्थाएं हिस्सा ले रही है।

प्रदर्शनी

यहां पर नाबार्ड समर्थित अग्रणी सफल किसानों, स्टेम लर्निंग, नेक्स एजुकेशन इंडिया आदि द्वारा अपने नवीनतम उत्पादों एवं सेवाओं की प्रदर्शनी लगाई जाएगी।

सीएसआर एवं एनजीओ अवार्ड के आवेदन आमंत्रित

सम्मेलन में राज्य में कंपनियों के अग्रणी सीएसआर कार्यों तथा एनजीओ द्वारा चलाई जा रहे सामाजिक परियोजनाओं को सम्मेलन में सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए विधिवत नामंकन मंगाए जा रहे हैं। अधिक जानकारी इंडिया सीएसआर डाट इन (www.indiacsr.in)  पर प्राप्त की जा सकती है। अधिक जानकारी के लिए rusenk@indiacsr.in पर मेल लिखें या 9981099555 पर सम्पर्क कीजिए।

Please follow and like us:

Comments

comments